What will you learn today ?

Favteacher is a knowledge sharing website run by students and teachers of India like you. Join now and become the part of learning community. Share your knowledge to the world.

Members- 375

Views 292

इतिहास जैन एवं बौद्ध धर्म महत्वपूर्ण प्रश्न भाग – 3

Profile photo of Ravi Kumar Ravi Kumar
November 6, 2017


हेल्लो दोस्तों , मैं फिर से एक नये पोस्ट के साथ आ गया हूँ जो कि इतिहास विषय से संबंधित है। आज हमलोग इतिहास विषय के भाग – 3 में जैन एवं बौद्ध धर्म से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्नों को देखेंगें।

 हमलोग इससे पहले पोस्ट इतिहास भाग – 2 में सिंधुघाटी  एवं वैदिक सभ्यता से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों को जाने। मैं आशा करता हूँ कि यह तथ्य आपलोगों को आनेवाली प्रतियोगी परीक्षाओं में मददगार साबित हो।

इतिहास जैन एवं बौद्ध धर्म महत्वपूर्ण प्रश्न भाग – 3

◆ जैनधर्म के संस्थापक कौन थे   –   ऋषभदेव

◆ जैनधर्म के प्रथम तीर्थंकर कौन थे   –   ऋषभदेव

◆ जैनधर्म के 23 वें तीर्थंकर कौन थे   –   पार्श्वनाथ

◆ जैनधर्म के अंतिम या 24 वें तीर्थंकर कौन थे   –   महावीर

◆ महावीर का जन्म   –   540 ई.पू. कुंडग्राम ( वैशाली )

◆ महावीर के बचपन का नाम   –   वर्धमान

◆ महावीर के माता-पिता   –   सिद्धार्थ , त्रिशला

◆ महावीर ने 30 वर्ष की उम्र में सन्यासी जीवन के लिए गृह त्याग दिया था।

◆ 12 वर्षों की तपस्या करने के बाद इन्हें ऋजुपालिक नदी के किनारे साल पेड़ के नीचे ज्ञान प्राप्त हुआ।

◆ महावीर ने अपना उपदेश किस भाषा मे दिया   –  प्राकृत

◆ महावीर के प्रथम अनुयायी कौन थे   –   जामिल  ( प्रियदर्शनी के पति / दामाद )

◆ महावीर ने अपने शिष्यों को 11 गणधरों में बांटा था।

● पहली जैन सभा   –   पाटलिपुत्र में , 322 ई. पू.

● दूसरी जैन सभा   –   वल्लभी ( गुजरात में ) , 512 ई. पू.

◆ पहली जैन सभा के बाद जैन धर्म को दो भागों में बाँट दिया गया  –  श्वेताम्बर और दिगम्बर।

◆ श्वेताम्बर सफेद कपड़ा पहनते है , दिगम्बर कोई भी कपड़ा नहीं पहनते है।

◆ जैनधर्म के तीन रत्न   –   सम्यक दर्शन , सम्यक ज्ञान , सम्यक आचरण

◆ जैनधर्म में ईश्वर को नहीं माना जाता है इसमें आत्मा को माना जाता है।

◆ चंद्रगुप्त मौर्य और चंदेल शासक जैन धर्म को मानते थे।

◆ खजुराहों की जैन मंदिर का निर्माण चंदेल शासक ने करवाया ।

◆ प्राचीन काल मे जैन धर्म का प्रसिद्ध केंद्र   –   मथुरा

◆ मथुराकला का संबंध किस धर्म से है   –   जैनधर्म

◆ जैन तीर्थंकरों की जीवनी किस पुस्तक में है   –   कल्पसूत्र

◆ कल्पसूत्र पुस्तक की रचना किसने की   –   भद्रबाहु

◆ महावीर की मृत्यु ( निर्वाण ) 72 वर्ष की आयु में 468 ई. पू. में बिहार के राजगीर जिले के पावापुरी में हुई।

 बौद्ध धर्म

◆ बौद्ध धर्म के संस्थापक कौन थे   –   गौतम बुद्ध

◆ गौतम बुद्ध का जन्म   –   563 ई. पू. , कपिलवस्तु के लुम्बिनी में।

◆ गौतम बुद्ध के बचपन का नाम   –  सिद्धार्थ

◆ गौतम बुद्ध के माता – पिता   –   मायादेवी , शुद्धोधन

◆ गौतम बुद्ध का विवाह 16 वर्ष की आयु में किसके साथ हुआ था   –   यशोधरा

◆ गौतम बुद्ध के पुत्र का नाम   –   राहुल

◆ गौतम बुद्ध को ‘ Light Of Asia ‘ कहा जाता है

◆ गौतम बुद्ध ने 29 वर्ष की उम्र में गृह त्याग दिया था इसे महाभिनिष्क्रमण कहते है।

◆ गौतम बुद्ध के प्रथम गुरु का नाम   –   आलारकलाम

◆ 6 वर्ष की कठिन तपस्या में बाद 35 वर्ष की उम्र में बुद्ध को वैशाख की पूर्णिमा की रात ज्ञान की प्राप्ति हुई।

◆ गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति निरंजन नदी के किनारे पीपल के पेड़ के नीचे हुई थी।

◆ ज्ञान प्राप्ति के बाद ही इन्हें बुद्ध कहा गया और बोधगया उस स्थान को कहा गया।

◆ बुद्ध के पहले उपदेश को क्या कहते है   –   धर्मचक्र प्रवर्तन

◆ बुद्ध ने पहला उपदेश कहा दिया और किस भाषा मे दिया   –   सारनाथ , पालि भाषा में।

◆ गौतम बुद्ध की मृत्यु 80 वर्ष की उम्र में हुई जिसे महापरिनिर्वाण कहते है।

◆ इनकी मृत्यु कहाँ हुई   –  कुशीनारा  ( देवरिया , उत्तरप्रदेश )

◆ विश्व दुखों से भरा है यह सिद्धांत बुद्ध ने कहा से लिया है   –   उपनिषद

◆ बौद्धधर्म के तीन रत्न   –   बुद्ध , धम्म और संघ।

◆ बौद्ध धर्म के अनुयायी को दो भागों में बांटा गया है   –   भिक्षुक और उपासक

◆ सांसारिक दुखों से मुक्ति के लिए बुद्ध ने आष्टांगिक मार्ग की बात कही थी  –  सम्यक दृष्टि , सम्यक संकल्प , सम्यक वाणी , सम्यक कर्मान्त , सम्यक आजीव , सम्यक व्यायाम , सम्यक स्मृति , सम्यक समाधि।

◆ बौद्ध सभाएँ : –  4 ( चार )

● पहली बौद्ध संगति  –  राजगृह  ( अजातशत्रु )

● दूसरी बौद्ध संगति  –  वैशाली  ( कालाशोक )

● तीसरी बौद्ध संगति  –  पाटलिपुत्र  ( अशोक )

● चौथी बौद्ध संगति  –  कुण्डलवण  ( कनिष्क )

◆ इसके बाद बौद्ध धर्म हीनयान और महायान दो भागों में बँट गया।



Ravi Kumar

Profile Photo

I am a B.Ed. student at k.k.m college pakur. I am interested in teaching and sharing my knowledge. I love to teach math to students.

Connect With Me

Leave a Comment

Skip to toolbar